Rajathan Weather Update : राजस्थान में पलटेगा मौसम, क्या होगी बारिश? नया पश्चिमी विक्षोभ ऐक्टिव

Rajasthan Ka Kal Ka Mausam, Rajasthan weather update

Google News

Follow Us

Rajathan Weather Update : सर्दी का प्रभाव राजस्थान में अभी भी महसूस हो रहा है। पश्चिमी विक्षोभ के कारण मौसम में बदलाव आया है और वर्षा भी हुई है। Rajathan Weather Update के अनुसार, 10 से 12 मार्च के बीच एक नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की संभावना है।

इसके कारण, राज्य के कई जिलों में बारिश के आसार हैं। इस बारे में और अधिक जानने के लिए, आईए हम इस विस्तार से देखें..

फिर शुरू हुआ सर्दी का दौर

Rajathan Weather Update : वर्तमान में राजस्थान में सर्दी का प्रभाव अभी भी महसूस हो रहा है। जहां थोड़ी सी राहत मिली है, वहीं प्रदेश के कई जिलों में आज भी न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से कम है।

हालांकि, सर्दी के महीने बीत चुके हैं और पतझड़ का फाल्गुन महीना आधा बित चुका है। इसके बावजूद, कई जिलों में लोगों को अब भी सर्दी से बचने के लिए रजाई का सहारा लेना पड़ रहा है।

पश्चिमी विक्षोभ के लगातार एक्टिव होने से, इस बार मौसम में अधिक परिवर्तन देखने को मिल रहा है।

4 पश्चिमी विक्षोभ हुए ऐक्टिव

Rajathan Weather Update : पिछले एक महीने में लगभग 4 पश्चिमी विक्षोभ एक्टिव हो चुके हैं, जिसके कारण राज्य के कई जिलों में हल्की और तेज बारिश के साथ ही ओलावृष्टि भी हुई है। इसके परिणामस्वरूप, आकाशीय बिजली गिरने से 6 लोगों की मौत भी हो चुकी है।

अब, पश्चिमी विक्षोभ समाप्त हो चुके हैं, लेकिन मौसम के बदलने के कारण उत्तरी दिशाओं से आने वाली सर्द हवाओं का आना अभी भी जारी है। पाकिस्तान की ओर से भी लगातार ठंडी हवाएं आ रही हैं, जिसका प्रभाव पूरे प्रदेश में महसूस हो रहा है।

क्या होगी बारिश? Rajathan Weather Update

Rajathan Weather Update : मौसम विभाग के अनुसार, 10 से 12 मार्च के बीच एक और पश्चिमी विक्षोभ एक्टिव होने की संभावना है, लेकिन इस बार यह विक्षोभ अधिक शक्तिशाली नहीं लग रहा है। इसकी स्थिति अभी तक कमजोर है।

इसके कारण, प्रदेश के कई जिलों में बादलों की गरजने की संभावना है। कुछ स्थानों पर हल्की बारिश का भी अनुमान है। मौसम विभाग IMD ने अभी तक किसी भी जिले के लिए चेतावनी जारी नहीं की है।

पिछले 24 घंटों में प्रदेश के प्रमुख शहरों का न्यूनतम तापमान इस प्रकार रहा:

  • संगरिया: 7.9 डिग्री सेल्सियस
  • माउंट आबू: 8.2 डिग्री सेल्सियस
  • सिरोही: 8.3 डिग्री सेल्सियस
  • करौली: 8.6 डिग्री सेल्सियस
  • वनस्थली: 9.0 डिग्री सेल्सियस
  • फतेहपुर: 9.5 डिग्री सेल्सियस

  • जवाई बांध: 10.2 डिग्री सेल्सियस
  • श्रीगंगानगर: 10.4 डिग्री सेल्सियस
  • अंता बारां: 10.4 डिग्री सेल्सियस
  • पिलानी: 10.4 डिग्री सेल्सियस
  • भीलवाड़ा: 11.0 डिग्री सेल्सियस

  • सीकर: 11.0 डिग्री सेल्सियस
  • चित्तौड़गढ़: 11.6 डिग्री सेल्सियस
  • जैसलमेर: 11.6 डिग्री सेल्सियस
  • डबोक: 12.2 डिग्री सेल्सियस
  • धौलपुर: 12.3 डिग्री सेल्सियस

  • वनस्थली: 12.5 डिग्री सेल्सियस
  • चूरू: 12.6 डिग्री सेल्सियस
  • कोटा: 13.1 डिग्री सेल्सियस
  • बीकानेर: 13.9 डिग्री सेल्सियस
  • जयपुर: 14.0 डिग्री सेल्सियस

  • बाड़मेर: 14.0 डिग्री सेल्सियस
  • जोधपुर: 14.1 डिग्री सेल्सियस
  • फलोदी: 14.8 डिग्री सेल्सियस
  • अजमेर: 15.2 डिग्री सेल्सियस
  • डूंगरपुर: 15.7 डिग्री सेल्सियस

यह भी पढ़ें :

KisanEkta.in एक ऐसी वेबसाईट है जहां हम किसानों को जोड़ने, शिक्षित करने और सशक्त बनाने का काम कर रहे हैं। यहां पर आपको सबसे ताजा मंडी भाव (Mandi Bhav), किसान समाचार, सरकारी योजनाओं के अपडेट और कृषि और खेती से जुड़े ज्ञान की जानकारी मिलती है। हमारा उद्देश्य है कि हम किसानों को जोड़कर उन्हें उनके काम को बेहतर बनाने के लिए जरूरी समाधान प्रदान करना है। हम अपनी कोशिशों के माध्यम से किसान समुदाय को एक साथ लाने में मदद कर रहे हैं।