यूं रुकेगा गेंहू में पीलापन : एक ही झटके में गेंहू को करे वापस हरा भरा

how-to-prevent-yellowing

Google News

Follow Us

नमस्कार किसान भाइयों और बहनों, जानिए गेंहू में पीलापन को कैसे रोका जा सकता है और जब गेंहू पीली पड़ जाए, तो कौन-कौन से कदम उठाए जा सकते हैं। इस पोस्ट में हम आपको गेंहू की खेती से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी साझा करने आए हैं। हम आपको बताएंगे कि गेंहू में पीलापन क्यों होता है और इसकी पूरी जानकारी कैसे प्राप्त की जा सकती है।

गेंहुं में पीलापन के कारण और निवारण –

प्रिय किसान भाइयों और बहनों, आने वाले समय में गेंहू में पीलापन की समस्या हो सकती है, खासकर हल्की मिट्टी में। इसके पीछे कुछ मुख्य कारण हो सकते हैं, जैसे कि नेमोटोड्स और फंगस।

हमारी हल्की मिट्टी में इन दोनों के विकास का मौसम होता है, जिसके कारण पौधों की जड़ें खत्म हो जाती हैं और उन्हें पूर्ण पोषण नहीं मिल पाता।

ऐसे करें गेहूं की खेती, पैसा बरसेगा

ऐसे करें जबरदस्त मुनाफेदार गेहूं की खेती – बुआई, सिंचाई, रोग, पैदावार

निवारण – गेंहू में पीलापन को ऐसे रोके –

हम केमिकल के रूप में कार्बोफ्यूरान डालते हैं, लेकिन यह बहुत ही हानिकारक हो सकता है क्योंकि इसका अधिक प्रयोग करने से मिट्टी में मौजूद उपयुक्त चीजें हो सकती हैं। आने वाले समय में, नेमोटोड्स, विशेषकर हल्की मिट्टी में, बहुत जटिल रूप से बढ़ सकते हैं।

आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप गेंहू में पीलापन रोकने के लिए जैविक उपायों का उपयोग करें, जैसे कि जीवाणू जैसे पेसिलोमाईसिस, पोसोनिया क्लाइडोस्पोरिया, और नीम की खली। अच्छी बात यह है कि ट्राईकोडर्मा का प्रयोग बहुत से किसानों ने करना शुरू किया है।

फोस्फोरस और कापर से बीजों का इलाज – हमने हाल ही में फोस्फोरस और कापर का उपयोग करके बीजों को उपचारित किया है, जिससे हमें अच्छे परिणाम मिले हैं। इसके परिणामस्वरूप, आने वाले समय में हमारी उपार्जित फसल का स्वास्थ्य भी बेहतर रहेगा। कापर फंगस और बैक्टीरियल रोगों के आने से रोकने में सहायक होता है।

महत्वपूर्ण सूचना – किसान साथियों, फंगस के कारण हमारी पैदावार की जड़ सही रिति से पोषण नहीं मिल पाता है, जिससे बाद में दीमक हमारे पौधों पर हमला करती है। दीमक कभी भी जीवित चींज पर अटैक नहीं करती है, इसलिए हमें फंगस का इलाज करना आवश्यक है, ताकि दीमक का स्वाभाविक समाप्त हो सके।

यह भी देखें :[LIVE] आज का राजस्थान मंडी भाव | Rajasthan Mandi Bhav Today
यह भी देखें :
[LIVE] आज का मध्यप्रदेश मंडी भाव | MP Mandi Bhav Today

KisanEkta.in एक ऐसी वेबसाईट है जहां हम किसानों को जोड़ने, शिक्षित करने और सशक्त बनाने का काम कर रहे हैं। यहां पर आपको सबसे ताजा मंडी भाव (Mandi Bhav), किसान समाचार, सरकारी योजनाओं के अपडेट और कृषि और खेती से जुड़े ज्ञान की जानकारी मिलती है। हमारा उद्देश्य है कि हम किसानों को जोड़कर उन्हें उनके काम को बेहतर बनाने के लिए जरूरी समाधान प्रदान करना है। हम अपनी कोशिशों के माध्यम से किसान समुदाय को एक साथ लाने में मदद कर रहे हैं।